उत्तर प्रदेशताजातरीनराजनीति

पांच साल संविदा पर रखने के सरकारी फरमान का संसद के मानसून सत्र से पहले ही विरोध शुरू

लखनऊ: पांच साल तक सरकारी भर्तियो में कर्मचारियों को संविदा पर रखने के योगी सरकार के फरमान का युवा मंच समेत अन्य संगठनों द्वारा रोजगार अधिकार दिवस में विरोध किया जायेगा।

सोमवार को संसद के मानसून सत्र के पहले दिन रोजगार बने मौलिक अधिकार पर आयोजित देशव्यापी कार्यक्रम की तैयारी के लिए युवा मंच की प्रदेश समिति की वर्चुअल मीटिंग यह निर्णय हुआ.

बैठक में केंद्र सरकार द्वारा किये जा रहे अंधाधुंध निजीकरण और नई पेंशन स्कीम का विरोध करने, रोजगार व विकास की गारंटी करने, रिक्त 24 लाख पदों को शीघ्र भरने, बेकारी भत्ता समेत सीमा विवाद को हल करने की मांगों को उठाने का भी फैसला हुआ.

बैठक में इलाहाबाद के सलोरी में पीसीएस में चयनित न हो पाने के कारण छात्र द्वारा आत्महत्या करने पर गहरा दुःख व्यक्त किया गया. बैठक में कल युवा हल्ला बोल के फेसबुक पेज पर आयोजित युवा संसद को बड़े पैमाने पर देखने की नौजवानों से अपील की गयी.

बैठक में राजेश सचान, अनिल सिंह, विनोवर शर्मा, अम्बुज मलिक,शैलेश मौर्य, स्नेहा राय, करन सिंह, जितेंद्र धांगर, नागेश गौतम, आमिर खान, अमित सिंह, अश्विनी कुमार चंदवन, शहनवाज खान आदि लोगों ने अपनी बात रखी. संचालन आलोक राजभर ने किया.

हमारी खबरें पढ़ने के लिए शुक्रिया. फेसबूक, यूट्यूब पर लाइक और सब्सक्राइब करें. अपनी खबरें भेजने के लिए क्लिक करें और लगातार ख़बरों से अपडेट रहने के लिए प्ले स्टोर से हमारा एप्प जरूर इनस्टॉल करें.

द सर्जिकल न्यूज़

ख़बरों व विज्ञापन के लिए संपर्क करें ईमेल thesurgicalnews@gmail.com

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: