ताजातरीन

थप्पड़ मारने से नाराज मनबढ़ों ने युवक को बुलाकर मारी गोली,ज़िला चिकित्सालय रेफ़र

करंडा। थाना क्षेत्र के धरवां गांव में थप्पड़ मारने से नाराज मनबढ़ चचेरे भाईयों ने घर के बाहर आकर युवक को बुलाकर गोली मार दी। संयोग अच्छा था कि गोली युवक के पैर में लगी, जिससे उसकी जान बच गई। इधर घायल युवक को सैदपुर सीएचसी लाया गया, जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। रात साढ़े 8 बजे खबर लिखे जाने तक किसी ने तहरीर नहीं दी थी। धरवां निवासी निवासी राणा प्रताप सिंह भारतीय किसान यूनियन भानू के जिला महासचिव हैं। उन्होंने बताया कि रविवार को वाराणसी के हरहुआ में यूनियन की मीटिंग थी। उसमें मेरे साथ जेवल निवासी आरोपी अतुल सिंह भी गया था। बताया कि वहां उन्होंने मुझे ठंडई में भांग मिलाकर पिला दी। जिसके बाद जब मैं घर आया तो अर्धचेतन अवस्था में हो गया था। मेरे छोटे भाई शिवाजी सिंह 27 पुत्र जयप्रकाश सिंह को लगा कि उन्होंने कुछ खिला दिया है। जिसके बाद उसने गुस्से में आकर पूछते हुए अतुल को एक थप्पड़ मार दिया था। इसके बाद अतुल चला गया। इधर शिवाजी के परिजनों ने सोचा कि अगले दिन दोनों के बीच सुलह करा दिया जाएगा। राणा प्रताप सिंह ने बताया कि सोमवार की शाम करीब 4 बजे अतुल अपने चचेरे भाई पंकज सिंह के साथ हमारे घर आया और शिवाजी के बारे में पूछने लगा। जैसे ही वो बाहर निकला, उसने कमर से पिस्टल निकाल लिया। ये देख हमने उसे पकड़ने की कोशिश की, इसके बावजूद उसने गोली चला दी। संयोग अच्छा था कि पकड़ने के चलते गोली शिवाजी के बाएं पंजे में लगी। राणा प्रताप ने बताया कि गोली मारने के बाद दोनों वहां से सीधे थाने चले गए। इधर सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने उसे उपचार को सीएचसी पहुंचाया, जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। इस बाबत करंडा थानाध्यक्ष ने बताया कि मामला संज्ञान में है, लेकिन अब तक परिजनों की तरफ से कोई तहरीर नहीं मिली है। उपचार के लिए पीड़ित को अस्पताल भेजा गया है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। घायल शिवाजी सिंह एलएलबी की पढ़ाई करता है।

हमारी खबरें पढ़ने के लिए शुक्रिया. फेसबूक, यूट्यूब पर लाइक और सब्सक्राइब करें. अपनी खबरें भेजने के लिए क्लिक करें और लगातार ख़बरों से अपडेट रहने के लिए प्ले स्टोर से हमारा एप्प जरूर इनस्टॉल करें.

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: