ताजातरीन

पूर्व प्रधान द्वारा कराए गए विकास कार्यों एवं सरकारी धन के बंदरबांट व गबन के मामले में आई जांच टीम,ग्रामीणों में हड़कम्प की स्थिति

सेवराई/रेवतीपुर। विकासखंड अंतर्गत महना गांव में पूर्व ग्राम प्रधान शमशाद खान के द्वारा कराए गए विकास कार्यों एवं सरकारी धन के बंदरबांट व गबन के मामले में आई जांच टीम ने 2015- 20 तक हुए विकास कार्यों का निरीक्षण किया एवं जांच रिपोर्ट शासन को सौंपने के लिए प्रेषित कर दिया। इस दौरान ग्रामीणों में हड़कंप की स्थिति बनी रही।

सेवराई तहसील क्षेत्र के महना गांव निवासी विकास पांडेय ने शपथ पत्र के साथ प्रार्थना पत्र सौंपते हुए पूर्व ग्राम प्रधान शमशाद पर करीब 80 लाख रुपए के गबन और विकास कार्य में हीला हवाली के साथ सरकारी धन के बंदरबांट का आरोप लगाया था। जिसमें हाईकोर्ट के निर्देश के बाद आई जांच टीम ने शुक्रवार को जांच पड़ताल कर रिपोर्ट शासन को भेजें।

जांच टीम ने महना गांव में कराए गए सीसी सड़क कार्य, शौचालय निर्माण कार्य, नाली निर्माण कार्य, सामुदायिक शौचालय निर्माण कार्य, पंचायत भवन निर्माण कार्य सहित कई योजनाओं के अंतर्गत कराए गए सभी विकास कार्यों का निरीक्षण किया। इस दौरान गांव में शिकायतकर्ता विकास पांडेय के द्वारा सीसी सड़क, नाली निर्माण में मानक की अनियमितता कर किए गए कार्य को भी दिखाया गया। जहां एक ही सड़क पर कई बार नाम बदल बदलकर सरकारी धन का बंदरबांट करने एवं मानकों को ताक पर रखकर निर्माण कार्य कराने का आरोप लगाया गया। शिकायतकर्ता के द्वारा तत्कालीन ग्राम प्रधान शमशाद पर वोट बैंक बनाने के लिए एक ही परिवार को कई बार नाम बदल बदल कर महत्वकांक्षी योजना का लाभ देने व छत के ऊपर आवास देने का आरोप भी लगाया गया। जिसका जांच टीम ने निरीक्षण किया।

हमारी खबरें पढ़ने के लिए शुक्रिया. फेसबूक, यूट्यूब पर लाइक और सब्सक्राइब करें. अपनी खबरें भेजने के लिए क्लिक करें और लगातार ख़बरों से अपडेट रहने के लिए प्ले स्टोर से हमारा एप्प जरूर इनस्टॉल करें.

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: