ताजातरीन

प्रभारी चिकित्सा अधिकारी ने बिना बोर्ड व रजिस्ट्रेशन के चल रहे नर्सिंग होम संचालक को लगया फटकार, 72 घंटे के अंदर मांगा स्पष्टीकरण

सेवराई। तहसील क्षेत्र के विभिन्न नर्सिंग होम, जच्चा बच्चा केंद्र का प्रभारी चिकित्सा अधिकारी के नेतृत्व में 3 सदस्य टीम ने किया निरीक्षण। बिना बोर्ड व रजिस्ट्रेशन के चल रहे एक नर्सिंग होम संचालक को फटकार लगाते हुए 72 घंटे के अंदर मांगा स्पष्टीकरण। अन्यथा की दशा में कार्यवाही की दी चेतावनी।

इन दिनों प्रदेश सरकार द्वारा संचालित संचारी रोग अभियान नियंत्रण के तहत जहां लोगों को मच्छर जनित रोग व घरों के आसपास गंदे पानी का जलजमाव ना होने की अपील की जा रही है। तो दूसरी तरफ अवैध नर्सिंग होम व जच्चा-बच्चा केंद्र सहित क्षेत्र में संचालित हो रहे डायग्नोस्टिक सेंटर का भी चिकित्सीय टीम निरीक्षण कर रहा है जिलाधिकारी के निर्देश पर किए जा रहे निरीक्षण से क्षेत्र के नर्सिंग होम संचालकों में हड़कंप मचा हुआ है।

शनिवार शाम सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ धनंजय आनंद के नेतृत्व में 3 सदस्य टीम ने क्षेत्र के करीब आधा दर्जन नर्सिंग होम व जच्चा बच्चा केंद्र का निरीक्षण किया। इस दौरान भदौरा बस स्टैंड स्थित एक नर्सिंग होम के सामने बोर्ड ना लगा होने व संचालक द्वारा कोई आवश्यक साक्ष्य प्रस्तुत ना किए जाने पर चिकित्साधिकारी भड़क गए उन्होंने संचालक पर कार्यवाही की चेतावनी देते हुए 3 दिनों के भीतर स्पष्टीकरण अथवा कागजात प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। कहा कि किसी भी हाल में क्षेत्र में अवैध नर्सिंग होम संचालित नहीं किए जाएंगे।

भदौरा स्थित सृष्टि हॉस्पिटल में निरीक्षण के दौरान सभी दस्तावेज पूर्ण मिले। हॉस्पिटल के संचालक डॉक्टर संजीव ने प्रभारी चिकित्साधिकारी सहित निरीक्षण करने पहुंचे स्वास्थ्य टीम को दस्तावेज सहित नियमानुसार सभी चीजें दुरुस्त मिली। चिकित्सा अधिकारी ने हॉस्पिटल संचालक को मरीजों के साथ सहानुभूति पूर्वक व्यवहार करने एवं अस्पताल में साफ सफाई दुरुस्त रखने के साथ ही लोगों को संचारी रोग एवं उसके बचाव व रोकथाम के लिए जागरूक करने का निर्देश दिया। इस दौरान चीफ फार्मासिस्ट ए एन यादव, डॉक्टर संजीव कुमार सहित अस्पताल के अन्य कर्मचारी मौजूद रहे। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा हो रहे औचक निरीक्षण से अवैध निजी नर्सिंग होम संचालकों में हड़कंप मचा रहा।

हमारी खबरें पढ़ने के लिए शुक्रिया. फेसबूक, यूट्यूब पर लाइक और सब्सक्राइब करें. अपनी खबरें भेजने के लिए क्लिक करें और लगातार ख़बरों से अपडेट रहने के लिए प्ले स्टोर से हमारा एप्प जरूर इनस्टॉल करें.

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: