Qries
ताजातरीन

नायब तहसीलदार के विवादित बोल से क्षेत्र मे विरोध,पूर्व भाजपा विधायक सुनीता सिंह ने कहा मानसिक दिवालियापन का असर

 

सेवराई। तहसील के एक अधिकारी का विवादित बयान सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद क्षेत्रीय लोगो मे इसका जमकर विरोध किया जा रहा है। नायब तहसीलदार द्वारा दिए गए विवादित बयान को लेकर निवर्तमान विधायक सुनीता सिंह ने कहा यह उसके मानसिक दिवालियापन का असर।

राम मंदिर व पूजा करने वाले लोगों के खिलाफ विवादित बयान देकर सेवराई तहसील के नायब तहसीलदार हिम्मत बहादुर एक बार पुनः विवादों में घिर गए हैं। हिम्मत बहादुर ने अपने विवादित बयान में बोला कि राम मंदिर में पूजा करने वाले लोग बेवकूफ हैं, यह एक दुकानदारी है। वीडियो वायरल होने के बाद निवर्तमान भाजपा विधायक सुनीता सिंह ने कहाकि यह तहसीलदार के मानसिक दिवालियापन का असर है, जो इस तरह के बोल बोल रहे हैं। उन्होंने एसडीएम व जिलाधिकारी को मामले से अवगत कराते हुए कार्रवाई की बात कही है।

गौरतलब हो कि इससे पूर्व भी एक बार तहसीलदार आवास को लेकर नायब तहसीलदार हिम्मत बहादुर के द्वारा तहसीलदार अमित शेखर के कमरे का ताला तोड़ने का मामला प्रकाश में आया था। तब विभागीय अधिकारियों ने किसी तरह मामला को शांत कराया था। पुन: नायब तहसीलदार हिम्मत बहादुर के द्वारा राम मंदिर पर दिए गए बयान से लोगों में चर्चा बना हुआ है। उनके इस बयान से लोगो मे आक्रोश वयाप्त है।

कामाख्या देवी मंदिर से उच्च शिक्षा सचिव को दर्शन पूजन कराकर लौटने के बाद सेवराई तहसील के नायब तहसीलदार हिम्मत बहादुर ने देवी-देवताओं और मंदिरों में पूजा करने वाले लोगों का विरोध शुरू कर दिया। इस दौरान उन्होंने विवादित बयान भी दे डाला। नायब तहसीलदार वीडियो में सार्वजनिक स्थान पर मंदिर में पूजा या आस्था रखने वाले लोगों को बेवकूफ बता रहे थे। जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं।

सेवराई के नायब तहसीलदार हिम्मत बहादुर ने कहाकि मंदिर में आस्था रखने वाले लोग बेवकूफ हैं। अयोध्या में बनने वाला राम मंदिर दुकानदारी है। इस बयान को लेकर भाजपा के कई संगठनों में विरोध के स्वर मुखर हो गए हैं। भाजपा के विधानसभा प्रभारी अरुण जायसवाल ने कहाकि ऐसे अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई हो नहीं तो हम सड़क पर उतरकर प्रदर्शन को बाध्य होंगे।

Qries
Back to top button

Copyright || The Surgical News

%d bloggers like this: