Qries
ताजातरीन

नायब तहसीलदार का स्थानांतरण सीलिंग कलेक्ट्रेट के पद पर, आवास का ताला तोड़ना पड़ा महंगा

 

सेवराई । नायब तहसीलदार सेवराई हिम्मत बहादुर को तहसीलदार सेवराई अमित कुमार के सरकारी आवास का ताला तोड़ना पड़ा महंगा। उपजिलाधिकारी सेवराई के रिपोर्ट पर जिलाधिकारी आर्यका अखौरी ने नायब तहसीलदार का स्थानांतरण सीलिंग कलेक्ट्रेट गाजीपुर के पद पर कर दिया। स्थानांतरण का आदेश मिलते ही हिम्मत बहादुर ने अपना हिम्मत खो दिया और दे डाला विवादित बयान। विवादित बयान का विडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही तहसील के अधिकारियों व कर्मचारियों में हड़कंप मच गया।
हालांकि इस विडियो की सत्यता को दैनिक जागरण प्रमाणित नहीं करता है। वायरल विडियो में नायब तहसीलदार ने राम मंदिर को दुकानदारी करना बताया मंदिर में जाने और पूजा करने वाले को बेवकूफ व गोबर का पूजा बताया ईश्वर से आस्था को गलत बताया। मंगलवार की दोपहर में मां कामाख्या धाम मंदिर पर दर्शन पूजन के लिए आए विशेष सचिव शिक्षा व मुख्य विकास अधिकारी गाजीपुर सहित तहसील व जिले के विभिन्न अधिकारियों को मंदिर में दर्शन करने के बाद हिम्मत बहादुर ने सभी को बेवकूफ व गोबर का पूजा करना बताया। तहसील परिसर में जब यह बात कह रहे थे तो इनकी बातों का किसी ने रिकॉर्डिंग कर लिया और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। वीडियो बनाने वाले व्यक्ति के सवालों का बेबाकी से जवाब देते हुए नायब तहसीलदार ने कहा कि मंदिर में आस्था रखने वाले लोग बेवकूफ हैं अयोध्या में बनने वाला राम मंदिर डंके की चोट पर कहता हूं की दुकानदारी है इस बात को जहां भेजना है भेज दीजिए मैं किसी से डरने वाला नहीं हूं। इतना कमजोर नहीं हूं हालांकि जब वहां मौजूद लेखपालों ने भी हिम्मत बहादुर के विवादित बयान में हां में हां मिला रहे थे। जिससे हिम्मत बहादुर की हिम्मत और बढ़ चढ़कर बोल रहा था। हालांकि जब वहां मौजूद लेखपालों ने देखा कि हिम्मत बहादुर विवादित बयान दे रहे हैं तो उन्हें पकड़ कर ले गए।

Qries
Back to top button

Copyright || The Surgical News

%d bloggers like this: