Qries
ताजातरीन

लंबे समय बाद पैतृक गांव पहुंचे अरुण सिंह,जनपद की सियासत गरमाई

नन्दगंज। जिला सहकारी बैंक के पूर्व चेयरमैन अरुण कुमार सिंह लगभग छः वर्ष के बाद नैनी जेल से जमानत पर रिहा होकर सोमवार को जैसे ही अपने घर नारी पचदेवरा पहुँचे उनसे मिलने के लिए उनके समर्थकों का हुजूम उमड़ पड़ा। इतने दिनों से जेल में रहने के बावजूद भी अरुण सिंह अपने चाहने वालो से बहुत स्नेह और अपनापन से मिले। इस मौके पर अरुण सिंह ने मीडिया से वार्ता करते हुए कहा कि मैं भाजपा की वकालत नही कर रहा लेकिन देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा देश और प्रदेश में कराए गए विकास कार्यो से बहुत प्रभावित हूं। कोरोना काल मे योगी जी ने ऐतिहासिक कार्य किया। कोई गरीब भूख और बीमारी से न मरे, सबके घर भोजन पहुँचता रहे इसके लिए वे दिन रात प्रदेश और अस्पतालों का दौरा किया करते रहें। उन्होंने यहाँ तक कहा कि मैं अभी भाजपा या किसी दल में नही हूँ। भाजपा से बहुत पहले ही इस्तीफा दे चुका हूँ, लेकिन जो अच्छा कार्य करेगा और सम्मान देगा। उसका मैं समर्थन करता हूँ। मैं अन्याय व जुल्म के खिलाफ हमेशा गुण्डो और माफियाओं से लड़ाई लड़ा हूँ और यह संघर्ष आगे भी जारी रहेगा। अगर जिले में किसी भी व्यक्ति के साथ अन्याय होगा या जनप्रतिनिधि उनकी नही सुनेंगे तो उनकी आवाज मैं मुख्यमंत्री योगी जी तक उठाऊंगा और उस व्यक्ति को न्याय दिलाने का काम करूंगा। मैं सम्मान के लिए भाजपा पार्टी को छोड़ा हूँ न की किसी निजी स्वार्थ के लिए। यदि मुझे सम्मान मिलेगा तो मैं भाजपा में पुनः जा सकता हूँ। उन्होंने करण्डा ब्लाक के खण्ड विकास अधिकारी अनिल श्रीवास्तव पर हुए प्राणघातक हमले की निंदा करते हुए कहा कि दो करोड़ का फर्जी भुगतान न करने के कारण उन पर हमला किया गया था। सबको पता है कि हमला किसने कराया है। अपराधी आज भी बाहर घूम रहे हैं। कुछ नेता हमलावरों को बचाने में भी लगे हैं। मैं मांग करता हूँ कि हमला करने वाले मास्टरमाइंड, गैंगेस्टर, अपराधी को तत्काल गिरफ्तार किया जाए। अगर करण्डा ब्लाक के खण्ड विकास अधिकारी को न्याय नहीं मिला, तो मैं अपनी सर्व दलीय संघर्ष समिति को साथ लेकर संघर्ष करूँगा। मैं छः साल बाद पुनः अन्याय के खिलाफ संघर्ष करने के आ गया हूँ। अरुण सिंह ने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि मुझ निर्दोष को जानबूझकर फर्जी फँसाया गया है। बनारस में जिस समय घटना घटी उस समय मैं गाजीपुर में था। उस घटना से मेरा कोई लेना देना नही है। इस मौके पर अरुण सिंह के समर्थकों ने मोदी, योगी के साथ अरुण सिंह को जोड़ कर जमकर नारेबाजी की।
इस मौके पर शिवप्रसाद सिंह, रामजी यादव, लव सिंह, त्रिलोकी श्रीवास्तव, राजेश सिंह, बबलू सिंह, उदय सिंह, बंटी सिंह, कैलाश राम, अरबिंद बिन्द, सुदामा बिन्द, उमेश यादव, बृजेश सिंह, नंदलाल वर्मा आदि लोग मौजूद रहे।

Qries

द सर्जिकल न्यूज़ डेस्क

ख़बरों व विज्ञापन के लिए संपर्क करें- thesurgicalnews@gmail.com
Back to top button

Copyright || The Surgical News

%d bloggers like this: