ताजातरीन

कांग्रेस प्रदेश सचिव अहमद शमसाद ने बाढ़ प्रभावित गांवों का किया दौरा,प्रदेश सरकार पर साधा निशाना

सेवराई।कांग्रेस के प्रदेश सचिव अहमद शमसाद ने सोमवार को तहसील क्षेत्र के विभिन्न गांवों में आई बाढ़ का दौरा किया।इस दौरान उन्होंने हसनपुरा नसीरपुर को जोड़ने वाली मुख्य पुलिया को भी देखा ।यहां विभाग द्वारा क्षतिग्रस्त पुलिया होने का बोर्ड भी लगाया है।इसके बावजूद भी ग्रामीण अपनी जान को जोखिम में डालकर पुलिया से आवागमन करने को मजबूर है।

गंगा का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है।जलस्तर बढ़ने से तराई क्षेत्रों में बसे लोगों डर का माहौल है।प्रशासन द्वारा किए जा रहे सभी दावे हवा हवाई साबित हो रहे है।कांग्रेस प्रदेश सचिव अहमद शमसाद ने बताया कि प्रशासन ने कागज़ों में ही बाढ़ चौकी और राहत केंद्र बना कर खानापूर्ति किया है।कामाख्याधम पर राहत केंद्र पर महज एक सफ़ाई कर्मी मौजूद रहा। वहां पर ना ही कोईबोर्ड लगाया गया था और ना ही किसी अधिकारी को वहां की जिम्मेदारी दी गई थी। उन्होंने बताया कि 20130में आई बाढ़ के दौरान ही नसीरपुर को हसनपुरा से जोड़ने वाली पुलिया काफी जर्जर स्थिति थी।जो 2019 में पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई थी।3वर्षो में ना ही शासन द्वारा मरम्मत कराया गया।और ना ही कोई नई पुलिया आवागमन के लिए बनाया गया।जिससे लोग अपनी जान जोखिम में डाल कर आवागमन करने की विवश है।

निरीक्षण के दौरान कांग्रेस प्रदेश सचिव ने ग्रामीणों से पशुचारा व स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली।ग्रामीणों ने पशुचारा को लेकर बताया कि शासन के तरफ से अभी कोई इलाज के साथ पशुचारा का कोई प्रबंध नही किया गया है। बाढ़ आने के कारण पशुओं के लिए लगाए गए चारा की खेत पूरी तरह से डूब गए है।जिससे पशुचरा के लिए संकट हो गया है।

वही प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस प्रदेश सचिव अहमद शमसाद ने कहा की बाढ़ की जानकारी होते हुए भी अधिकारी मौन साधे हुए है। बाढ़ से प्रभावित लोगो के लिए कोई भी प्रबंध नहीं किया गया है

हमारी खबरें पढ़ने के लिए शुक्रिया. फेसबूक, यूट्यूब पर लाइक और सब्सक्राइब करें. अपनी खबरें भेजने के लिए क्लिक करें और लगातार ख़बरों से अपडेट रहने के लिए प्ले स्टोर से हमारा एप्प जरूर इनस्टॉल करें.

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: