ताजातरीन

गांव के सिवान में लटक रहा हाईटेंशन तार विद्युत विभाग बना लापरवाह, जान की जोखिम में डालकर किसान कर रहे खेती

सेवराई। एक तरफ सरकार किसानों की आय दोगुनी करने की एवं किसान हितों की बात कर रही है। वही बिजली विभाग के अधिकारियों की लापरवाही एवं उदासीनता के चलते किसानों की जान सांसत में पड़ी हुई हैं। उनकी लापरवाही का आलम यह है जो कि एक झटके में किसी की जान ले सकता है। जर्जर तार महीनों से जमीन सतह से 4 फीट की दूरी पर लटक रहा है। लेकिन इस पर कई बार शिकायत के बावजूद बिजली विभाग के अधिकारियों की नजर नहीं पड़ रही है।

वही किसानों ने आरोप लगाते हुए बताया कि बिजली विभाग के अधिकारियों को टेलीफोन से इसकी शिकायत की गई मामले की गंभीरता को देखते हुए फोटो और वीडियो भी संबंधित अधिकारियों के व्हाट्सएप पर भेजा गया लेकिन उदासीन अधिकारियों के द्वारा अभी तक इस पर कोई कार्रवाई नहीं करने के कारण किसानों में आक्रोश बना हुआ है। किसानों ने चेताया कि अगर जल्द ही समस्या दूर नहीं की गई तो हम सभी धरना प्रदर्शन को बाध्य होंगे।

क्षेत्रीय किसान मुन्ना यादव, कल्लू खान, रामनाथ यादव, कमलेश यादव, सुहैल खान, बुधेश यादव आदि ने बताया कि तहसील क्षेत्र के दिलदारनगर पावर हाउस से 11 हजार वोल्ट का हाईटेंशन तार जो अमौरा पंप कैनाल और गांव में गया हुआ है। वह इतना नीचे हो गया है की लोग अपनी जान जोखिम में डालकर किसान अपने खेतो में जा रहे है। विजली विभाग को कई बार लिखित और मौखिक रूप से शिकायत करने के बावजूद भी विभाग मौन साध रखा है और किसी अनहोनी का इंतज़ार कर रहा है।

इस संबंध में जेई तपस कुमार ने बताया कि तार को दुरुस्त करने में अतिरिक्त खंभे और तार की आवश्यकता है जिसके लिए स्टीमेट तैयार कर जल्द ही ठीक करा दिया जाएगा।

हमारी खबरें पढ़ने के लिए शुक्रिया. फेसबूक, यूट्यूब पर लाइक और सब्सक्राइब करें. अपनी खबरें भेजने के लिए क्लिक करें और लगातार ख़बरों से अपडेट रहने के लिए प्ले स्टोर से हमारा एप्प जरूर इनस्टॉल करें.

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: