ताजातरीन

धरने पर बैठे सदस्‍यों ने रेलवे स्‍टेशन मास्‍टर के माध्‍यम से डी0आर0एम दानापुर एवं रेल प्रवंन्‍धक हाजीपुर को सौंपा पत्रक, मॉंगे नहीं मान ली जाती तो वह रेलवे के खिलाफ 15 जनवरी को आमरण अनशन पर बैठेंगे

गहमर । स्थानीय गांव के रेलवे स्‍टेशन पर भूतपूर्व सैनिक सेवा संस्‍थान एवं पुन: रेल ठहराव समिति द्वारा 4 जनवरी से चल रहे अनिश्चित कालीन धरने में 12 जनवरी को एक नया मोड़ आ गया। धरने पर बैठे सदस्‍यों ने रेलवे स्‍टेशन मास्‍टर के माध्‍यम से डी0आर0एम दानापुर एवं रेल प्रवंन्‍धक हाजीपुर को पत्र भेजते हुए कहा कि यदि 15 जनवरी तक उनकी मॉंगे नहीं मान ली जाती तो वह रेलवे के खिलाफ 15 जनवरी को 11 बजे से अमरण अनशन पर बैठ जायेगें जिसकी सारी जिम्‍मेदारी रेलवे प्रशासन की होगी।

रेल पुन: ठहराव समिति के संयोजक गहमर इंटर कालेज के पूर्व प्रवक्‍ता हृदय नारायण सिंह ने कहा कि रेलवे हमारी मॉंगो पर अपने कान में तेल डाल कर बैठा हुआ है, जिसको जगाने के लिए यह बहुत जरूरी है, अब हम जीयें या मरे लेकिन रेलवे के खिलाफ निर्णायक लडाई जरूर लडेगें।

विदित हो कि कोराेना के नाम पर सैनिक बहुल्‍य गहमर रेलवे स्‍टेशन पर मधग एक्‍सप्रेक्‍स, फरक्‍का एक्‍सप्रेक्‍स, गरीब रथ एवं भगत की कोठी एक्‍सप्रेक्‍स का ठहराव हटा दिया गया है, जिससे नाराज भूतपूर्व सैनिक सेवा संस्‍थान, रेल पुन: ठहराव समिति एवं सिविल बार ऐशोसिएसन सेवराई व गाजीपुर तथा व्‍यापार मंडल गहमर परिक्षेत्र के नेतृत्‍व में 4 जनवरी से गहमर रेलवे परिसर मेें लगातार अनशन चल रहा है।
पत्रक देते समय सुधीर सिंह, प्रमोद सिंह , महेन्‍द्र उपाध्‍याय, हृदय नारायण सिंह, हेराम सिंह, शक्तिमान, ओमप्रकाश सिंह इत्‍यादि लोग मौजूद रहे।

द सर्जिकल न्यूज़ डेस्क

ख़बरों व विज्ञापन के लिए संपर्क करें- thesurgicalnews@gmail.com
Back to top button

Copyright || The Surgical News

%d bloggers like this: