Qries
ताजातरीन

दबंगों ने काटी नहर की पटरी, लगभग 300 बीघा गेहूं की फसल जलमग्न

दिलदारनगर । फूली गांव से निकली नवली रजवाहा का पचोखर गांव के उत्तर तरफ नहर पटरी को दबंगो द्वारा बीती रात काट देने से पचोखर गांव के दर्जन भर किसानों का लगभग 300 बीघा गेंहूँ फसल जलमग्न हो गया। सुबह खेत की तरफ गए किसान ने पटरी टूटा देख होश उड़ गए। किसानों की भीड़ जुट गई। सिंचाई विभाग के अधिकारियों को फोनकर रजवाहा में पानी की आपूर्ति बंद कराया।

फूली गांव से निकली नवली रजवाहा का पानी फूली, पचोखर, सरहुला गांव होते हुए नवली गांव तक सिंचाई के लिए जाता है।लेकिन पचोखर गांव के उत्तर तरफ रात में नहर की पटरी दबंगो द्वारा काट देने से पचोखर गांव के दर्जन भर किसान के 300 बीघा से अधिक गेंहूँ की फसल जलमग्न हो गयी। पटरी टूटने की जानकारी मिलते ही किसान खेतों की ओर दौड़ पड़े और पानी रोकने का प्रयास करने लगे तब तक पानी खेतों में पूरी तरह से भर गया। गेंहू के खेत जलमग्न होने से किसानों के मेहनत बेकार हो गया।

गांव के किसान राकेश राय, मुन्ना राय, दयाशंकर यादव, महेंद्र, उमाशंकर, रामधनी तिवारी, मोती राजभर आदि ने बताया की दबंगो द्वारा पचोखर मौजा के उत्तर तरफ हर वर्ष उत्तर तरफ की नहर पटरी काट देते है। जिससे हम लोगों को भारी नुकसान उठाना पड़ता है।सिंचाई विभाग के अधिकारियों को बताने के बाद भी वह दबंगो पर कार्रवाई नहीं करते, जिससे यह नुकसान झेलना पड़ता है। किसान राकेश राय ने बताया कि अभी भी दो दिन पूर्व ही खेत में पानी भर खाद का छिड़काव किया गया था लेकिन दबंगो की कारस्तानी ने मेहनत पर पानी फेर दिया।

अगर सिंचाई विभाग रजवाहा का सीसी कर दे तो किसानों को इस समस्या से निजात मिलेगा। इस बाबत देवकली पंप नहर के सहायक अभियंता अजय श्रीवास्तव ने बताया कि रजवाहा की पटरी की मरम्मत हो गयी है। खेतों तक पानी ले जाने के लिए किसान अगर नाली बना लेते तो यह समस्या ही खत्म हो जाती। दोषियों के विरुद्ध आवश्यक कार्यवाई की जाएगी।

Qries
Back to top button

Copyright || The Surgical News

%d bloggers like this: