ताजातरीन

भोजपुरी की गरिमा को कायम रखने के लिए अश्लीलता परोसने से बचना होगा- गायिका भावना पांडेय

प्रेम कुमार की रिपोर्ट

-शिवभजन अलबम विमोचन के मौके पर शिवभजन और कजरी की फुहार,

बक्सर।शहर के गोलंबर स्थित मनी सम्राट एंटरटेनमेंट संगीत विद्यालय परिसर में अपने कजरी और शिव भक्ति भजनों से नवोदित गायिका भावना पांडेय ने समां बांध दिया।मौका था भोजपुरी गायिका सुश्री पांडेय की आरएनएस फिल्म्स से जारी शिवभजन एलबम गऊरा के वर करिया बा–,तथा आदिशक्ति फिल्म्स के बैनर तले जारी एल्बम”चल भोला के मनावे–“।अपनी सुरीली आवाज में कार्यक्रम का आगाज सुश्री पांडेय ने सरस्वती वंदना से कर जहां विद्या की अधिष्ठात्री देवी की चरण वंदना की तो दूसरी ओर पावन सावन माह में बाबा भोलेनाथ का एक से बढ़कर एक भोजपुरी की सोंधी माटी की जुबान में परोस कर जहां माहौल को शिवमय बना दीं।ऐसे में सावन माह से कजरी गायन का अटूट रिश्ता है।इस परंपरा का भी बड़ी खूबसूरती से निर्वहन करते हुए सुश्री पांडेय ने अपनी सुमधुर आवाज में कजरी का तान छेड़ पूरे माहौल को झूमने पर विवश कर दिया। द सर्जिकल न्यूज से खास बात चित में भावना पांडेय ने बताया कि भोजपुरी गायन के क्षेत्र में उनकी बचपन से रुचि रही है।पिता श्रीभगवान पांडेय जो कि पुलिस में एस आई पद पर कार्यरत होते हुए भी मेरी गायकी को पुष्पित पल्लवित करने में भरपूर सहयोग दिए।महिला पीजी कॉलेज पूर्णिया से इतिहास विषय से परास्नातक कर रही भावना पांडेय प्रयाग से संगीत प्रभाकर कर चुकी है।भोजपुरी गायन में बढ़ती अश्लीलता और फूहड़ता के संबंध में पूछे जाने पर सुश्री पांडेय ने बताया कि ऐसे गीतों से जहां सभी भषाओं से सुमधुर भाषा की गरिमा को ठेस पहुंचाने का कार्य कुछ सस्ती लोकप्रियता हासिल करने वाले गायक कलाकार कर रहे हैं।इससे न तो उनका भला होने वाला है और ना तो हमारी संस्कृति में रची बसी भोजपुरी का मेरे जितने भी एलबम बाजार में आये हैं।सभी घर-परिवार में सुनने लायक हैं।गायकी के क्षेत्र में सफलता का श्रेय संस्था के डायरेक्टर मनी सम्राट और रमेश सिंह को दीं।

हमारी खबरें पढ़ने के लिए शुक्रिया. फेसबूक, यूट्यूब पर लाइक और सब्सक्राइब करें. अपनी खबरें भेजने के लिए क्लिक करें और लगातार ख़बरों से अपडेट रहने के लिए प्ले स्टोर से हमारा एप्प जरूर इनस्टॉल करें.

Leave a Reply

Back to top button
%d bloggers like this: