ताजातरीन

3 सेंटीमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रही गंगा, तटवर्ती इलाकों में दहशत

बाढ़ राहत शिविर के केंद्र मां कामाख्या धाम पर तैनात तहसील कर्मचारी
राहत शिविर केंद्र नेहरू विद्यापीठ इंटर कॉलेज रेवतीपुर का निरीक्षण करते तहसीलदार सेवराई अमित शेखर

 

 

 

सेवराई। स्थानीय तहसील क्षेत्र में गंगा नदी में बढ़ रहे जलस्तर को देखते हुए प्रशासन चौकन्ना हो गया है। गंगा तटवर्ती इलाको में रहने वाले लोगो को सुरक्षित जगह पलायन करने को कहा जा रहा है। ज्ञात हो कि इस समय गंगा नदी का जलस्तर 3 सेंटीमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रहा है। गुरुवार की दोपहर 2 बजे तक जलस्तर 62.780 मीटर था जो कि चेतावनी बिंदु से उपर है वर्तमान में गंगा नदी का जलस्तर चेतावनी बिंदु से उपर और खतरा बिंदु के नीचे है। पिछले 2 दिनों से पानी मे ठहराव होने के बाद बुधवार से पुनः जलस्तर में बढ़ोतरी होनी शुरू हो गई है। जिससे बाढ़ आने की पूरी संभावना बढ़ गई है। एस डी एम सेवराई राजेश प्रशाद ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो में जाकर लोगों से अपील किया कि वे बाढ़ की स्थिति को देखते हुए ऊंचे स्थानों पर अपने जानवरों सहित रहना सुनिश्चित करें। विस्थापित परिवार होने की स्थिति में बाढ़ राहत केंद्र नेहरू विद्यापीठ इंटर कॉलेज रेवतीपुर और कामाख्या धाम ने बाल शरणालय बनाया गया है जिसमें विस्थापित परिवारों और जानवरों को ठहराने की व्यवस्था की गई है। गुरुवार को तहसील क्षेत्र के सभी क्षेत्रों में जहां बाढ़ आने की संभावना है उक्त जगह का एस डी एम राजेश प्रसाद द्वारा निरीक्षण करके लोगों को अवगत कराया गया है कि बाढ़ से घबराने की कोई जरूरत नहीं है नाव का पूर्ण प्रबंध हो गया है अल्प सूचना पर भी नाव उपलब्ध रहेगी । इस संबंध में एस डी एम ने बताया कि सभी बाढ़ चौकियों पर कर्मचारी तैनात कर दिए गए हैं जो अनवरत बाढ़ चौकियों पर उपस्थित रहेंगे और लोगों को जागरूक करेगे। साथ ही बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के प्रधान और कोटेदार की बैठक करके उनसे अपील की गई कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में सभी लोगों को मुनादी करके जागरूक करते रहे। कभी भी बाढ़ आ सकती हैं लेखपाल और बीट कांस्टेबल को भी निर्देशित किया गया है कि वे बाढ़ क्षेत्र में लगातार उपस्थित रहकर लोगों को जागरूक करें और किसी भी स्थिति में किसी भी व्यक्ति अथवा जानवरों को बाढ़ की तरफ जाने से मना करें। अगर किसी भी कर्मचारी द्वारा कार्य मे शिथिलता या लापरवाही बरती गई तो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

हमारी खबरें पढ़ने के लिए शुक्रिया. फेसबूक, यूट्यूब पर लाइक और सब्सक्राइब करें. अपनी खबरें भेजने के लिए क्लिक करें और लगातार ख़बरों से अपडेट रहने के लिए प्ले स्टोर से हमारा एप्प जरूर इनस्टॉल करें.

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: