गाजीपुरताजातरीन

अवैध बुचड़खाना संचालक सहित पांच गिरफ्तार

Five arrested including illegal slaughterhouse operator

करंडा/गाजीपुर: थाना क्षेत्र के बड़सरा गांव में लम्बे समय से अवैध पशुबधशाला चल रही थी, लेकिन बुचड़खाना संचालक इतनी चालाकी से पशुओं को काटने बेचने का काम करते थे कि पुलिस को उनका सुराग तक नहीं लग रहा था. क्षेत्र में पशुओं के चोरी की घटनाओं और छुट्टा पशुओं के गायब होने को लेकर आमलोगों में काफी समय से चर्चा थी, कई पशुओं के चोरी की घटनाओं की तो पुलिस में शिकायत भी की गयी.

छुट्टा पशुओं के गायब होने और पशु चोरी की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर सम्पूर्णानंद राय और चौकी प्रभारी बड़सरा सुनील शुक्ला ने मिलकर इसपर तहकीकात करना प्रारंभ किया तो चौकाने वाला मामला सामने आया.

पुलिस को जानकारी मिली कि अल्पसंख्यक बाहुल्य गांव बड़सरा धरम्मरपुर और सिकंदरपुर तथा मुस्लिम आबादी वाले अन्य गांवों में अवैध प्रतिबंधित मांस की बिक्री हो रही है, चालाकी करते हुए पुलिस फुटकर मांस बिक्रेताओं के रास्ते बड़सरा मध्य गांव में स्थित बुचड़खाना तक पहुंच गयी.

शनिवार की शाम को पुलिस को जानकारी मिली कि एक छुट्टा पड़वा को बड़सरा का ही मंदबुद्धि युवक हांककर गांव में ले जा रहा है. इसी सूचना के आधार पर पीछे लग गयी और रात्रि लगभग एक बजे थानाध्यक्ष सम्पूर्णानंद राय, चौकी प्रभारी सुनील शुक्ला, उपनिरीक्षक राजेश सिंह अपने हमराहियों के साथ बड़सरा गांव पहुंचकर गांव के चारो और रास्तों पर घेरेबंदी कर दिये. सटीक सूचना पर पुलिस पशुओं को जिस घर में काटा जाता था वहां पहुंच गयी.

काफी देर की कार्यवायी के बाद भोर में लगभग साढे चार 5 बजे पुलिस टीम ने कटे पशु अंग सहित लगभग आधा दर्जन लोगों को लगभग 25 किलो मांस, दो छूरा, दो ठीका, एक बड़ा टांगी नुमा गड़ासा, तराजू आदि सामान के साथ पकड़ लिया. कसाइयों से पूछताछ में पुलिस को पता चला कि गिरफ्तार जमानियां थाने के अंसारी मुहल्ला निवासी शाहनवाज़ उर्फ नाजा पुत्र साहिल ही अवैध रूप से पशुओं को काटता और बेचता है, शाहनवाज़ उर्फ नाजा अपने चार साथियों बड़सरा निवासी मुं एजाज पुत्र जहूर , मुं कादिर उर्फ सोनू पुत्र रिजवान , तुफैल अहमद पुत्र अल्लाउद्दीन और मुंo सोहराब पुत्र अजीमुल्ला की मदद से छुट्टा पशुओं को गांव में लाता है और इन्ही लोगों की मदद से देर रात को ही काटकर पहले से तय ग्राहकों को मांस बेच दिया जाता था. जिससे सुबह होते होते कुछ पता न चले. गिरफ्तार अभियुक्तों के विरूद्ध करंडा थाने में दर्ज मुकदमा अपराध संख्या 178/22 धारा 429आईपीसी,11पशु क्रूरता निवारण अधिनियम तथा 25 आर्म्स एक्ट के तहत जेल भेज दिया गया.

गिरफ्तार करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक संपूर्णानंद राय, वरिष्ठ उप निरीक्षक राजेश बहादुर सिंह,उप निरीक्षक सुनील शुक्ला, कांस्टेबल सोनू सरोज, कांस्टेबल राजकुमार भारतीया, कांस्टेबल अभिनव‌ यादव, कांस्टेबल मयंक कुमार सिंह, कांस्टेबल दिलीप कुमार यादव, कांस्टेबल रवि प्रकाश, कांस्टेबल राकेश राव शा‌मिल रहे.

हमारी खबरें पढ़ने के लिए शुक्रिया. फेसबूक, यूट्यूब पर लाइक और सब्सक्राइब करें. अपनी खबरें भेजने के लिए क्लिक करें और लगातार ख़बरों से अपडेट रहने के लिए प्ले स्टोर से हमारा एप्प जरूर इनस्टॉल करें.

द सर्जिकल न्यूज़

ख़बरों व विज्ञापन के लिए संपर्क करें ईमेल thesurgicalnews@gmail.com

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: